शनिवार, 21 जनवरी 2017

👉 आज का सद्चिंतन 22 Jan 2017


1 टिप्पणी:

  1. संजीत कुमार पाण्डेय22 जनवरी 2017 को 10:20 am

    बहुत अच्छी बात जिन्दगी बदल जाएगी।

    उत्तर देंहटाएं

👉 देवत्व विकसित करें, कालनेमि न बनें (भाग 6)

🔴 यह तो नमूने के लिए बता रहा हूँ। उसकी ऐसी भविष्यवाणियाँ कवितामय पुस्तक में लिपिबद्ध हैं, जिसे फ्रान्स के राष्ट्रपति मितरॉ सिरहाने रखकर...