बुधवार, 6 दिसंबर 2017

👉 आज का सद्चिंतन 6 Dec 2017


कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

👉 पहले अपने अंदर झांको Pehle Apne Andar Jhanko

पुराने जमाने की बात है। गुरुकुल के एक आचार्य अपने शिष्य की सेवा भावना से बहुत प्रभावित हुए। विधा पूरी होने के बाद शिष्य को विदा करते समय...