मंगलवार, 16 अगस्त 2016

👉 अशुभ चिंतन छोड़िये-भय मुक्त होइये (भाग 3)


🔵 भय और मनोबल, अशुभ और शुभ चिन्तन आशंकाएं और आशाएँ सब मन के ही खेल हैं। इनमें पहले वर्ग का चुनाव जहाँ व्यक्ति को आत्मघाती स्थिति में धकेलता है वही दूसरे प्रकार का चुनाव उसे उत्कर्ष तथा प्रगति के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित करता है। सर्वविदित है कि आत्मघात, व्यक्तित्व का हनन या असफलता का चुनाव व्यक्ति किन्हीं विवशताओं के कारण ही चुनता है। अन्यथा सभी अपना विकास, प्रगति और अपने अभियानों में सफलता चाहते हैं। जब सभी लोग सफलता और प्रगति की ही आकाँक्षा करते हैं तो मन में समाये भय के भूत को जगाकर क्यों असफलताओं को आमन्त्रित करता है? इसके लिए मन की उस दुर्बलता को उत्तरदायी ठहराया जा सकता है जिसे आत्मविश्वास का अभाव कहा जाता है।

🔴 प्रथम तो अशुभ चिन्तन और अमंगलकारी आशंकाओं से ही बचा जाना चाहिए। लेकिन यह स्वभाव में सम्मिलित हो गया है और अपने आपके प्रति अविश्वास बहुत गहरे तक बैठ गया तो उसके लिए भी प्रयत्न करना चाहिए। इस दिशा में सचेष्ट होते समय यह ध्यान रखा जाना चाहिए कि हम स्वयं ही भय की रचना करते हैं, उसे बुलाते और अपनी हत्या के लिए आमन्त्रित करते हैं। यह जान लिया गया तो यह समझ पाना भी कठिन नहीं है कि स्वयं ही भय को नष्ट भी किया जा सकता है।

🔵 अपने लगाये पेड़ को स्वयं काटा भी जा सकता है और सन्दर्भों में यह बात लागू होती हो अथवा नहीं होती हो किन्तु मन के सम्बन्ध में यह बात शत प्रतिशत लागू होती है कि वह तभी भयभीत होता है, जब जाने अनजाने उसे भयभीत होने की आज्ञा दे दी जाती है। यह आज्ञा अशुभ आशंकाओं के रूप में भी हो सकती है और अतीत के कटु अनुभवों तथा दुःखद स्मृतियों के रूप में भी। कहने का आशय यह कि किसी भी व्यक्ति के मन में उसकी इच्छा और अनुमति के विपरीत भय प्रवेश कर ही नहीं सकता। तो भीरुता को अपने स्वभाव से हटाने के लिए पहली बात तो यह आवश्यक है कि भय को अपने मनःक्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति न दी जाए।

🌹 क्रमशः जारी
🌹 पं श्रीराम शर्मा आचार्य जी
🌹 अखण्ड ज्योति जून 1981 पृष्ठ 21
http://literature.awgp.org/magazine/AkhandjyotiHindi/1981/January.21
🔵 Independence Day 15 August 2016 @ Shantikunj Haridwar
15 August 2016 (70th Indian Independence Day ) Celebration in Shantikunj Haridwar

👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽

 https://youtu.be/zqit0N3gxWk
 
🔴 15 August 2016 ( 70th Indian Independence Day ) Celebration in Dev Sanskriti Vishwavidyalaya. Shantikunj Haridwar
👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽

https://youtu.be/S6Ui2oLU6ts

 🔵 Shraddheya Dr. Pranav Pandya's speech on Independence Day 2016 At Dev Sanskriti Vishwavidyalaya Haridwar
👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽
https://www.youtube.com/watch?v=A8Z0LcUw9CU
 🔴 निर्मल गंगा  जन अभियान । राष्ट्रीय संगोष्ठी । समग्र गंगा स्वच्छता | शांतिकुंज 14 अगस्त 2016
👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽👇🏽

https://youtu.be/ceyqJRLNTaw
 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

👉 देवत्व विकसित करें, कालनेमि न बनें (भाग 7)

🔴 कुछ नई स्कीम है, जो आज गुरुपूर्णिमा के दिन कहना है और वह यह है कि प्रज्ञा विद्यालय तो चलेगा यहीं, क्योंकि केन्द्र तो यही है, लेकिन जग...